वाराणसी में 72 उम्मीदवारों का नामांकन रद्द, PM मोदी समेत 30 बचे. हुआ जमकर हंगामा

वाराणसी लोकसभा सीट सबसे अहम् मानी जा रही है. क्युकी वहां देश के प्रधानमंत्री खड़े हैं. और पूरा विपक्ष उनको उस सीट से हराने में लग गया है. मगर वाराणसी सीट का चुनवी समीकरण क्या कहता है, पिछला इतिहास क्या है. आइये जानते हैं.

30 nomination accepted in varanasi loksabha seet
30 nomination accepted in varanasi loksabha seet

नामांकन के आखिरी दिन वाराणसी में दो इतिहास रचे गये पहला रात के 11. 15 तक पर्चा दाखिल होता रहा और दूसरा पीएम मोदी के खिलाफ दो-दो हाथ करने के लिये कुल 102 लोगों ने चुनाव मैदान में ताल ठोकी है. इससे पहले 2014 के चुनाव में 62 लोगों ने पर्चा दाखिल किया था. जिसमें नामंकन पत्रों के जांच के बाद कुल 41 प्रत्याशी मैदान में रह गए थे.

-----

2014 के आंकड़ों की बात करें तो पीएम मोदी ने अपने प्रतिद्वंद्वी आम आदमी पार्टी के अरविंद केजरीवाल को 3,71,784 वोटों के अंतर से हरा दिया था. पीएम नरेंद्र मोदी को कुल 5,81,022 वोट मिले थे. दूसरे स्थान पर अरविंद केजरीवाल को 2,09,238 मत मिले थे. कांग्रेस प्रत्याशी अजय राय 2014 में 75,614 वोटों के साथ तीसरे स्थान पर थे. वो ज़मानत नहीं बचा सके थे. बहुजन समाज पार्टी और समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार भी अपनी ज़मानत नहीं बचा सके थे.

बहुजन समाज पार्टी के प्रत्याशी विजय प्रकाश जायसवाल चौथे स्थान पर थे. उन्हें 60,579 वोट मिले थे. वहीं समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी कैलाश चौरसिया 45,291 मतों के साथ पांचवें स्थान पर रहे थे. अब सपा-बसपा एक साथ हैं और उनका एक प्रत्याशी मैदान में है. अगर दोनों के वोट मिला ले फिर भी पीएम मोदी के वोटों का एक चौथाई भी नहीं है. वाराणसी लोकसभा सीट भाजपा परंपरागत रूप से जीतती रही है. पिछले छह लोकसभा चुनावों में पांच में भाजपा ने यहां से जीत हासिल की थी.

छोटे खिलाड़ी जो मैदान में हैं-
  • बर्खास्त जवान तेज बहादुर
  • अर्थी बाबा
  • लगभग दो दर्जन किसान
  • बाहुबली अतीक अहमद
  • हॉकी जादूगर मोहम्मद शाहिद की बेटी हिना
  • एवरेस्ट फतह कर चुकीं संतोष यादव
  • सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के वीरेंद्र
  • रामराज्य परिषद के श्री भगवान् पाठक
  • राष्ट्रीय बंधुत्व पार्टी जम्मू से छज्जू राम गुप्ता
  • फ़िरोज़ाबाद की प्रीति मिश्रा
  • इन्साफ पार्टी से भारती
  • लोकप्रिय समाज पार्टी से छेदी लाल
  • पीएम मोदी के हमशक्ल अभिनंदन पाठक

ऐसे ही कुल मिला कर 102 लोग मैदान में हैं. वहीं बड़ी ख़बर के आ रही है. नामांकन करने वाले 102 प्रत्याशियों में से 72 प्रत्याशियों का नामांकन फार्म अपूर्ण व त्रुटियों के चलते जिला निर्वाचन अधिकारी ने मंगलवार को खारिज कर दिया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत 30 उम्मीदवारों का नामांकन पत्र जांच प्रक्रिया के बाद स्वीकार कर लिया गया है.

नामांकन पत्र खारिज होने से नाराज उम्मीदवारों ने रायफल क्लब परिसर के बाहर और कलेक्ट्रेट के प्रवेशद्वार पर जमकर हंगामा किया. जिला प्रशासन पर जानबूझकर नामांकन पर्चा खारिज करने का आरोप लगाया.