MI-17 क्रैश में शहीद हुए जवानों को दी गई अंतिम विदाई, योगी ने की 25-25 लाख की मदद

जम्मू-कश्मीर के बड़गाम में बुधवार को पाकिस्तानी वॉर में भारतीय वायु सेना का एमआई17 हेलीकॉप्टर क्रैश हो गया था. इसमें तीन भारतीय सैनिक कानपुर के दीपक पाण्डेय, वाराणसी के विशाल कुमार पाण्डेय और मथुरा के पंकज सिंह शहीद हो गए थे.

25 lakh rupees financial help for helicopter crash martyr family
25 lakh rupees financial help for helicopter crash martyr family

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शहीद सैनिकों को श्रद्धांजलि देते हुए प्रदेश के शहीद तीन सैनिकों के परिवार के लिए 25-25 लाख रुपये की आर्थिक मदद की घोषणा की है. इसके साथ ही योगी ने कहा कि सरकार इनके परिवार की हर तरह से मदद करेगी. इस दुर्घटना में शहीद हुए सैनिकों की शहादत को देश व प्रदेश कभी भूल नहीं पाएगा। इन शहीदों के परिवार के एक सदस्य को मृतक आश्रित के तौर पर सरकारी नौकरी भी देगी.

-----

साथ ही शहीदों की स्मृति में इनके गृह जनपद में एक सड़क का नामकरण भी इनके नाम पर किया जाएगा। कहा कि प्रदेश के इन वीर सपूतों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा. शहीद हुए कानपुर के लाल कारपोरल दीपक पांडेय के पार्थिव शरीर के अंतिम दर्शन के लिए शुक्रवार को हुजूम उमड़ पड़ा. दीपक पांडेय अमर रहे, जब तक सूरज चांद रहेगा दीपक तेरा नाम रहेगा के नारे गूंज रहे हैं.

दीपक को देखने के लिए सुबह से ही उनके घर के बाहर लोगों का जमावड़ा लगा रहा. रात में भी दीपक के अंतिम दर्शन के लिए लोग आते रहे. कैबिनेट मंत्री सतीश महाना ने दीपक पांडेय के परिजनों से मिलकर उन्हें ढांढस बंधाया.

बतादें 27 फ़रवरी को पाकिस्तान ने कायराना हरकत करते हुए अपने 3 लड़ाकू विमान भारतीय सीमा के अंदर भेजे थे. जिसको भारतीय सेना ने खदेड़ दिया और पाक का एक F-16 विमान भी मार गिराया था. इस युद्ध में भारतीय विमान पाक आधारित कश्मीर में क्रैश हो गया. और विमान उड़ा रहे भारतीय कमांडर अभिनंदन को पाकिस्तानी सेना ने गिरफ्तार कर लिया.

वही भारत का एक एमआई-17 चॉपर हेलीकॉप्टर भी क्रैश हो गया था. जिसमें तीन भारतीय सैनिक कानपुर के दीपक पाण्डेय, वाराणसी के विशाल कुमार पाण्डेय और मथुरा के पंकज सिंह शहीद हो गए थे.