2019 में कौन बनेगा प्रधानमंत्री – लखनऊ की दुबग्गा मंडी में किसानों व्यापारियों की राय – CUTTING CHAI

2019 में कौन बनेगा प्रधानमंत्री
लखनऊ की दुबग्गा मंडी, वैसे अच्छे चैनलों के पत्रकार ऐसी जगह कम जाते हैं जहां. हम ये नहीं कहते कि नहीं जाते हैं. लेकिन कम जाते हैं. हमने तय किया कि हम मंडी जाएंगे जहां मजदूर भी होंगे. पल्लेदार होंगे. आढ़ती होंगे. किसान होंगे. और सब्जियां खरीदने वाले बड़े व्यापारी भी होंगे. मतलब किसानों की नकदी फसल खरीदने बेंचने वाले मिल जाएंगे. हुआ भी ऐसा ही. हमारे मंडी के भीतर पहुंचते ही लोगों नें हमें घेर लिया. हर कोई अपनी बात कैमरे पर कह देना चाहता था.
.
मंडी में हमें विचित्र चीज देखने को मिली लोग मोदी को प्रधानमंत्री बनाने के पक्ष में दिखे लेकिन योगी सरकार के खिलाफ दिखे. मतलब साफ था. किसान किसी पार्टी विशेष के समर्थक नहीं थे. भक्त नहीं थे अपने हिसाब से खुलकर बोल रहे थे. मंडी के किसानों ने योगी सरकार को सिरे से नकार दिया. यूपी के लिए बेहतर नेता कौन है इस सवाल पर किसानों ने अखिलेश को बेहतर बताया. सभी राय तो हम आपको नहीं दिखा पाए लेकिन 96 प्रतिशत किसानों ने योगी आदित्यनाथ को नकार दिया
.
मंडी के भीतर लोगों ने अपनी समस्याएं बताईं. नरेंद्र मोदी को अगला प्रधानमंत्री बनाने के सवाल पर लगभग 80 प्रतिशत मंडी के लोग सहमत नजर आए. लेकिन किसान मोदी सरकार से उतना खुश नजर नहीं आए जितना आना चाहिए था. लोग मोदी को इसलिए पसंद करते मिले क्योंकि वो बोलते अच्छा हैं. विदेशों में अच्छा नाम किया है. किसानों के लिए क्या काम किया इस सवाल पर किसानों ने मोदी सरकार बेहतर नहीं बताया. आय दूनी करे के सवाल को मजाक बताया
.
यानी मंडी के भीतर हमने ये पाया कि किसान मोदी सरकार का विकल्प ना होने की स्थिति में देश के लिए अभी तक 2019 का सबसे अच्छा विकल्प मानते हैं. लेकिन यूपी में 2022 के लिए मुख्यमंत्री पद के लिए अखिलेश के समर्थन में खड़े नजर आए..यानी मंडी के किसान यूपी में अखिलेश को मुख्यमंत्री और दिल्ली में मोदी को प्रधानमंत्री बनता देखना चाहते हैं.

((((लोगों से बातचीत के आधार पर किया गया एनालिसेस)))) 

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *