सर्दियों में हृदय, हाई ब्लड प्रेशर, अस्थमा के मरीज़ इन बातों को न करें नज़रअंदाज़, 14 की मौत

Ulta Chasma Uc  :  ठंड बढ़ने लगी है और इसके साथ ही हृदय, हाई ब्लड प्रेशर, अस्थमा जैसे रोगियों की तबियत भी बिगड़ने लगी है. डायबिटीज के मरीजों की तकलीफ भी बढ़ गई है. वहीँ कानपुर में बुधवार को सात हृदय रोगियों की मौत हो गई. और पांच की इलाज के दौरान मौत हो गई. दो रोगी तो अस्पताल तक ही नहीं पहुंच पाए. कानपुर कार्डियोलोजी की इमरजेंसी में हार्टअटैक के लक्षणों के साथ 68 रोगियों को भर्ती किया गया है.

14 people died due to heart attack in winter kanpur
14 people died due to heart attack in winter kanpur

हृदय, हाई ब्लड प्रेशर, अस्थमा और डायबिटीज के मरीजों को ठंड में विशेष ध्यान रखना होगा. वरना कभी भी कुछ भी हो सकता है. ऐसे मरीजों को अपने खाने पीने का ध्यान रखना चाहिए और डॉक्टर की सलाह लेते रहना चाहिए.

अगर आप रोजाना वॉक करने जाते हैं तो धूप निकलने के बाद ही जाएं क्‍योंकि रात का प्रदूषण वातावरण में जम जाता है जो सुबह की धुंध में मिल कर स्मौग बना देता है. इसलिए बेहतर होगा की आप धूप निकलने के बाद सैर के लिए नि‍कले.

इन बातों का रखें ध्यान
  1. – हृदय रोगी ठंडा पानी न पिएं, ताजा या हल्का गुनगुना पानी लें
  2. – ताजा और सादा खाना खाएं, गरिष्ठ भोजन न लें
  3. – सोने के पहले तनाव मुक्त हो जाएं, स्ट्रेस लेकर न सोएं
  4. – गर्म कमरे से अचानक सर्द माहौल में बाहर न निकलें
  5. – मरीज कान, नाक, पैर गर्म कपड़े से ढंके रहें
  6. – बीपी की जांच और दवा की डोज दुरुस्त करवाते रहें
  7. – सांस के मरीज सूर्यास्त के बाद बाहर न निकलें
  8. – रोगी देर रात की पार्टियों से परहेज करें
  9. – धूल, धक्कड़ और गंदगी से बचें. इससे सांस की समस्या और बढ़ सकती है.
  10. – थोड़ी देर के लिए धूप में बैठे. जिससे ताजी हवा और विटामिन-डी दोनों मिलेंगे.

जिन लोगों को डायबिटीज होती है, उन्हें दिल की बीमारी होने का खतरा दो से तीन गुना तक बढ़ जाता है. इससे बचने के लिए डायबिटीज को नियंत्रित रखें. सप्ताह में 5 दिन आधे घंटे व्यायाम करें. अपने रक्तचाप पर भी नियमित रूप से नजर रखें. वजन अधिक होने से ब्लड ग्लूकोज, ब्लड प्रेशर और ब्लड फैट लेवल बढ़ता है. इसलिए उसे नियंत्रण रखें.

Web Title : 14 people died due to heart attack in winter kanpur

HINDI NEWS से जुड़े अपडेट और व्यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ FACEBOOK और TWITTER हैंडल के अलावा GOOGLE+ पर जुड़ें.