हाथरस पीड़िता का परिवार हाईकोर्ट में सुनवाई के लिए कड़ी सुरक्षा के बीच लखनऊ रवाना

हाथरस गैंगरेप और मर्डर केस पीड़िता का परिवार लखनऊ हाईकोर्ट में अपना बयान दर्ज कराएगा। इसके लिए आज पीड़िता का परिवार लखनऊ आएगा। पीड़िता का परिवार कड़ी सुरक्षा के बीच लखनऊ रवाना हो गया है। इस मामले को 1 अक्टूबर से कोर्ट अपने संज्ञान में लिया है। पीड़िता का परिवार सुबह पाँच बजे हाथरस से निकला है।

पीड़िता के परिवार से उसके माता-पिता दो भाई और एक भाभी लखनऊ जा रहे हैं। दो गाड़ियों में पीड़िता का परिवार है। जबकि छह गाड़ियों में उनके स्कार्ट के लिए भाई ने जो भी घटना हुई है उसके बारे में कोर्ट में बताएंगे। जो घटना के वक्त मौजूद था वो अपनी बात कोर्ट में रखेगा। क्योंकि इससे पहले परिवार ने लखनऊ जाने से मना कर दिया था।

क्योंकि पीड़िता के भाई ने कहा था कि उनके साथ वहां कुछ भी हो सकता है। हमें प्रशासन पर बिल्कुल भी भरोसा नहीं है। वहीं केस दर्ज होने के बाद सीबीआई के एंटी करप्शन ब्रांच ने हाथरस पहुंचकर जांच शुरु कर दी है। जहां महिला डिप्टी एमपी सीमा पाहुजा कह रही हैं। सीबीआई ने पुलिस से सारे एफआईआर व दस्तावेज ले लिए हैं। सूत्रों से पता चला है कि सीबीआई टीम जांच करने के लिए घटनास्थल पर पहुंचेगी।

टीम के साथ फारेंसिक टीम भी मौजूद रहेगी और घटनास्थल का निरीक्षण करने के बाद सबूतों के इकट्ठा करेगी। जिन अधिकारियों ने अभी तक केस की जांच की है उनसे भी बात करेगी।

एसपी का कहना है कि पीड़िता के परिवार कि कड़ी सुरक्षा के लिए पर्याप्त इंतजाम किए गए हैं। परिवार की सुरक्षा की सारी जिम्मेदारी डीआईजी शलभ माथुर संभाल रहे हैं। उन्होने बताया की पीड़िता के परिवार की सुरक्षा के लिए 60 पुलिसकर्मी को तैनात किया गया है। और सीसीटीवी की मदद से परिवार पर पूरी निगरानी रखी जा रही है।

सीबीआई पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट पूर्व में फॉरेंसिक टीम द्वारा लिए गए जांच सैंपल औऱ सभी संबंधित सबूतों को जुटाएगी औऱ हाथरस का पूरा मामला यह है कि 14 सितंबर चार लोगों ने कथित रुप से 19 साल की लड़की के साथ गैंगरेप किया था। य़ह भी आरोप लगाया गया था कि उसकी रीढ़ की हड्डी तोड़ी गयी थी जीभ काटी गयी थी।

दिल्ली में इलाज के दौरान 29 तारिख को पीड़िता की मौत हो गयी थी। इसके आरोप में चार आरोपी को गिरफ्तार कर लिय़ा गया है। जबकि पुलिस ये दावा कर रही है कि दुष्कर्म नहीं हुआ है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *