हाथरस केस को यूपी सरकार ने किया सीबीआई के हवाले देशद्रोही जैसे मामलों की भी होगी जांच

उत्तर प्रदेश के हाथरस गैंगरेप और हत्या के मामले की जांच अब सीबीआई करेगी। गाजियाबाद की सीबीआई यूनिट अब दोबारा उस केस को रजिस्टर्ड करेगी। जिसे यूपी पुलिस ने दर्ज किया था। इसके अलावा हाथरस में बढ़े हुए धरना प्रदर्शन के बाद उत्तर प्रदेश कि पुलिस के द्वारा दर्ज राजद्रोह औऱ राज्य सरकार के खिलाफ जो साजिश रची गई है औऱ जो भी मामला है उन सब की जांच अब सीबीआई करेगी।

अब सीबीआई ने हाथरस केस को टेक ओवर कर लिया है। जल्द ही सीबीआई इस केस पर जांच करेगी। इससे पहले योगी सरकार ने हाथरस कांड कि जांच के लिए सुप्रिम कोर्ट से गुजारिश की थी की हाथरस कांड की सीबीआई जांच सुप्रिम कोर्ट की निगरानी में हो। वहीं अधिकारियों ने कहा कि जैसे ही केस रजिस्टर्ड होगा वैसे ही सीबीआई टीम हाथरस भेज दी जाएगी।

हाथरस कांड की जांच अभी तक एसआईटी कर रही थी। हालही में इस जांच को पूरा करने के लिए एसआईटी को यूपी सरकार ने 10 दिनों का औऱ वक्त दे दिया गया था ताकि सच सामने आ सके। लेकिन इस मामले में लगातार बढ़ते पेच की वजह से यह मामला अब सीबीआई के अंडर में आ चुका है।

उत्तर प्रदेश हाथरस में हुए बालात्कार पीड़िता के दाह संस्कार के वक्त का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था। उस वायरल हुए वीडियो में यह साफ नजर आ रहा था कि उस पीड़िता की लाश को पुलिस प्रशासन के लोगों ने जलाई थी। वहीं पीड़िता के शव को जलाने के लिए रीति-रिवाज नहीं ज्वलनशील पदार्थ का भी इस्तेमाल किया गया था। उस वायरल वीडियो में एसएचओ लक्ष्मण सिंह शव को जलाते हुए दिखाई दे रहे हैं और साथ कोलवाली चंदपा के कई पुलिसकर्मी भी कैमरे में कैद हुए हैं।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *