बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर उम्मीदवारों की लिस्ट से ये सरप्राइज देगी बीजेपी सरकार

विधानसभा चुनाव को लेकर सत्ताधारी एनडीए में सीट शेयरिंग फॉर्मुला फाइनल हो गया है। अब सभी को इंतजार इसके ऐलान का है। इसी बीच भारतीय जनता पार्टी ने उम्मीदवारों की लिस्ट को लेकर पूरी चर्चा कर लि है। सूत्रों के बात माने तो पार्टी इस बार कैंडिडेटस की लिस्ट को लेकर बड़ा सरप्राइज देगी।

बिहार चुनाव को लेकर दिल्ली से पटना तक बीजेपी के वरिष्ठ नेताओं की बैठकों का दौर जारी है। साथ ही केंद्रीय चुनाव समीति की बैठक भी हुई और इसमें प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी शामिल हुए। इस बैठक में भारतीय जनता पार्टी ने ये फैसला लिया कि इस चुनाव में किसी भी मंत्री, विधायक या सांसद के करीबियों को पार्टी की तरफ से टिकट नहीं दिया जाएगा।

जेडीयू के साथ गठबंधन के मद्देनजर भारतीय जनता पार्टी उम्मीदवारों के चयन में बिल्कुल नई रणनीति के साथ काम कर रही है। चिराग पार्टी के बिहार चुनाव में अकेले उतरने की वजह से पार्टी ने पार्टी अपनी रणनीति में बदलाव कर रही है।

बिहार चुनाव प्रभारी देवेंद्र फडणवीस और पार्टी के महासचिव भूपेंद्र यादव ने एलजेपी को मनाने और बीजेपी-जेडीयू के साथ गठबंधन में रखने को लेकर अमित शाह, पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से भी बात की। साथ ही पार्टी की केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक में भी इस मुद्दे को उठाया गया, हालांकि, सूत्रों ने स्पष्ट कर दिया है कि एलजेपी की वापसी की संभावनाएं बिल्कुल नहीं है। हालांकि, आगामी दिनों में कोई चौंकाने वाले फैसले से इनकार पार्टी सूत्रों ने किया है।

एलजेपी पार्टी के अध्यक्ष चिराग पासवान ने ये साफ कर दिया है पार्टी बिहार विधानसभा चुनाव में बीजेपी के खिलाफ अपना उम्मीदवार नहीं उतारेगी। ऐसे में जेडीयू पार्टी ने भी पीएम मोदी नीतिश कुमार की संयुक्त रैली कराने पर विचार कर रही है। ये सब करने पीछे जनता को ये संदेश देना है कि एलजेपी के बाहर जाने से बीजेपी-जेडीयू के रिशतों में कोई असर नहीं हुआ है। बल्कि ये गठबंधन और मजबूत बन गया है।

 

 

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *