जॉनसन एंड जॉनसन ने कोरोना वैक्सीन के ट्रायल पर लगाई रोक

कोरोना महामारी के बीच दुनियाभर में कोरोना वायरस की वैक्सीन बनाने की कवायद जारी है। लेकिन इन सब के बीच एक नई खबर आई है वो ये कि जॉनसन एंड जॉनसन कंपनी ने अपनी कोरोना वैक्सीन ट्रायल पर रोक लगा दी है।

क्योंकि ट्रायल करने के दौरान हिस्सा ले रहे एक व्यक्ति में किसी तरह कि बीमारी होने के कारण ही जॉनसन जॉनसन कंपनी ने अपनी कोरोना वैक्सीन का ट्रायल रोक दिया है।

इस महीने कि शुरुआत में ही जॉनसन एंड जॉनसन अमेरिका के वैक्सीन बनाने वालों कि शार्ट लिस्ट में शामिल हुआ है। जॉनसन एंड जॉनसन कंपनी की एडी26-सीओवी2-एस वैक्सीन अमेरिका में चौथी ऐसी वैक्सीन है, जो क्लिनिकल ट्रायल के अंतिम चरण में है।

पिछली बार की रिपोर्ट में यह कहा गया था। वैक्सीन ने प्रारंभिक अध्ययन में कोरोना वायरस के खिलाफ एक मजबूत प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया बनाई है। शोधकर्ताओं ने कहा था कि अब तक के जो परीक्षण हुए उसके परिणामों के आधार पर अभी तक कोई गंभीर दुष्प्रभाव नहीं थे।

जॉनसन एंड जॉनसन कंपनी ने जब इस वैक्सीन के अंतिम परीक्षण को शुरु किया। तब कंपनी ने कहा कि इसका प्रयोग कई देशों में करीब 60 हजार लोगों पर कोरोना वैक्सीन का प्रयोग किया जाएगा।

जॉनसन एंड जॉनसन कंपनी ने एक ऐसे वक्त पर वैक्सीन का ट्रायल पर रोकने की खबर दी है, जब एस्ट्राजेनेका कंपनी ने भी वैक्सीन पर रोक लगा दी गई थी।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *