मुलायम के सेनापति और अखिलेश के मार्गदर्शक एसआरएस नहीं रहे

अगर आप समाजवादी पार्टी के दफ्तर कभी गए हैं तो एक इंसान से आपकी मुलाकात जरूर हुई होगी..या फिर यूं कहें कि इस इंसान के बिना कलम चलाए आपका आर्थिक और पार्टी संबंधित काम पूरा नहीं हो सकता था..वो नाम है एसआरएस यादव का..एसआरएस यादव का कोरोना के कारण निधन हो गया..एसआरएस यादव सपा का दफ्तर संभालने के अलावा समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता और MLC भी थे..

 

एसआरएस यादव समाजवादी पार्टी कोरोना से निधन
एसआरएस यादव समाजवादी पार्टी कोरोना से निधन

एसआरएस यादव समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ सलाहकारों में शुमार थे. वो सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के साथ भी काम कर चुके थे. सपा आफिस की कमान एसआरएस यादव ही संभालते थे. वो उन्नाव के रहने वाले थे..मुलायम सिंह यादव 1989 में जब पहली बार मुख्यमंत्री बने तो उन्होंने एसआरएस को अपना विशेष कार्याधिकारी यानी ओएसडी बनाया था. राजनीति में आने से पहले वे कोऑपरेटिव बैंक में नौकरी करते थे. उसी दौरान मुलायम सिंह यादव से उनका संपर्क हुआ था..पूरा समाजवादी खेमा उनके अचानक निधन से स्तब्ध है..अखिलेश यादव ने कहा..सपा के वरिष्ठ नेता, एमएलसी व पार्टी कार्यालय के प्रभारी श्री एसआरएस यादव जी के कोरोना से निधन पर हम सब स्तब्ध हैं. प्रदेश ने आज एक समर्पित समाजवादी खो दिया है. उनको भावपूर्ण नमन व श्रद्धांजलि.

 

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *