अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा सरकार ने देश को डुबो दिया है

अखिलेश यादव ने भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि भाजपा सरकार ने देश डुबो दिया है। देश का शासन चलाने की जगह वह देश के साधनों व संसाधनों का बाजार लगा रही है। भाजपा सरकार ने निजीकरण से युवाओं के रोजगार के अवसर को बेच डाला है। अखिलेश यादव ने ये भी कहा कि पिछले 15 सालों में प्रदेश की स्थिति इतनी खराब हुई है, की नौकरियां मिलने के बजाए छूट रही हैं।

रेलवे अस्पतालों को बेचने के लिए टेंडर मांगे गए हैं। डेढ़ साल तक मंहगाई भत्ता बन्द करने के बाद भी रेलवे में सेवानिवृत्त के जो पद खाली हैं उनमें 50 प्रतिशत को खत्म करने की रणनीति बनी है। रेलवे ने जो 109 रुट पर जो अत्याधुनिक ट्रेने चलाने का जो फैसला किया है उसमें विदेशी कंपनी भी शामिल हो सकती हैं।

यहां तक देश में सरकारी बैंकों की संख्या को घटाकर पाँच करने की तैयारी हो रही है और साथ ही उनका निजीकरण होगा। जबकि पिछले साल 10 सरकारी बैंको को मिलाकर चार बड़े बैंक बनाने का फैसला किया गया था। अब उन बैंको कि हिस्सेदारी निजी क्षेत्र को बेचने की तैयारी है। जिनको शामिल नहीं किया गया है।

देश की ऐसी स्थिति को लेकर ट्वीट कर लिखा- समझ नहीं आता भाजपा सरकार चला रही है या देश के साधनों और संसाधनों का बाज़ार लगा रही है. इन्होंने प्रदेश-देश में टोल, मंडी, सरकारी मॉल, आईटीआई, पॉलीटेक्निक, हवाई अड्डा, रेल के साथ-साथ बीमा कंपनी और निजीकरण से युवाओं के रोज़गार के अवसरों तक को बेच डाला है.

इसके बाद बेरोजगार और परेशान युवाओं पर चिंता जताते हुए अखिलेश यादव ने ट्वीट कर लिखा- आज़ाद भारत के इतिहास में इस सरकार में देश से आधिकारिक रूप से सबसे ज़्यादा पैसा बाहर विदेशों में गया है. ये भाजपा की गलत नीतियों, नोटबंदी, दोषपूर्ण GST, आर्थिक अस्थिरता के डर व कुछ अपने समर्थक पूँजीपतियों को बचाने व उनको ही लाभ पहुँचाने के कारण हुआ है. भाजपा ने देश डुबो दिया है.

 

 

 

 

 

 

 

 

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *