अखिलेश के होटल के धंधे में उतरने की खबर झूठ निकली

लखनऊ में अखिलेश यादव के बंगले का भूत यूपी की सरकार से उतर ही नहीं रहा है..यूपी में बीजेपी बंगले को चुनाव तक हर हाल में एक मुद्दा बनाकर रखना चाहती है..ये इसलिए साफ हो जाती है क्योंकि बंगले की तोड़पोड़ की खबरों के बाद बंगले में हुए नुकसान के आंकलन के लिए राज्य संपत्ति विभाग की एक टीम बनाई गई थी..इस टीम ने बताया था कि एसी निकालने के अलावा ऐसी किसी पहले से बनी हुई चीज में नहीं की गई जो चीजें अखिलेश को बंगला देते समय बनी हुई थीं…

 

-----

 

-----

 

 

 

 

 

-----

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

मतलब बंगला खाली करते समय टूटा तो था लेकिन राज्य संपत्ति विभाग की चीजें नहीं टूटी थीं…उस जांच के बाद अब एक और जांच होगी अखिलेश यादव के खाली किए सरकारी बंगले की जांच के लिए विशेषज्ञों की एक कमेटी गठित की जाएगी…इसके लिए राज्य संपत्ति विभाग को पत्र लिखकर कमेटी के माध्यम से इसकी जांच कराने की संस्तुति की गई है…शुरुआती रिपोर्ट में इस तोड़फोड़ से हुए मामूली नुकसान की बात कही गई थी, लेकिन योगी जी के नेतृत्व वाले यूपी के शासन को अपने ही राज्य संपत्ति विभाग की रिपोर्ट मंजूर नहीं है…विशेषज्ञों की कमेटी बनाई जाएगी..